क्या आप जानते हैं 2 मिनट पेट की मसाज करने से बदहजमी और पेट फूलने की समस्या से आराम मिल सकता है?
देखभाल

क्या आप जानते हैं 2 मिनट पेट की मसाज करने से बदहजमी और पेट फूलने की समस्या से आराम मिल सकता है?

Health Raftaar

परेशान पेट का सामना करना सबसे खराब भावनाओं में से एक है। आप ठीक से नहीं खा सकते हैं और न खाकर भी आप "भरा" हुआ महसूस कर सकते हैं। यह निश्चित रूप से आपके दिन को बाधित करता है! पाचन समस्याएं अक्सर अपने आप या फ्लू, बुखार या मासिक धर्म में ऐंठन के साथ होती हैं। जब दबाव पेट में बनता है, तो आप अपने पाचन तंत्र के विभिन्न हिस्सों में फंसी हुई हवा से परेशान हो सकते हैं, जिससे पेट फूलना, बार-बार डकार और पेडू में दर्द सहित कई लक्षण हो सकते हैं।

अपच का मूल कारण जब आप बहुत अधिक और बहुत जल्दी-जल्दी से कुछ खाते हैं, तो यह आपके विंडपाइप में एक अंतर पैदा करता है। इसलिए, यह हमेशा सलाह दी जाती है कि आप अपने भोजन को धीमा और अच्छी तरह से खाएं।

अगर आप अपने पाचन से सम्बंधित कुछ गड़बड़ी महसूस करते हैं, तो ऐसी संभावना है कि आप दर्द या कब्ज या इससे भी बदतर समस्या अनुभव कर सकते हैं। आप ऐसे में क्या करते हैं? बस दर्द निवारक गोलियां खाते हैं और परेशानियां कुछ दिनों के लिए शांत हो जाती है। पेट से जुडी समस्याएं आपके काम के बीच में भी रुकावट पैदा कर सकती हैं। होम रेमेडी ऐसे में बेहद लाभदायक होती हैं लेकिन आप हमेशा अपने साथ किचन उठाकर तो नहीं लेकर जा सकते।

ऐसे में क्या करें -

ऐसे में, आप अपने दोनों हाथों से पेट के निचले हिस्से को दबाते हैं। लेकिन ये हम सभी जानते हैं कि इससे पूरी तरह से फरक नहीं पड़ता, इससे बस कुछ मिनट के लिए समस्या नियंत्रण में आ जाती है। आपके लिए हम एक बेहतरीन विकल्प लेकर आएं हैं, जो कि आसान है और किसी भी तैयारी की जरूरत नहीं है। बस आपको क्या करना है पेट की मसाज के लिए 2 मिनट का वक़्त निकाल लें।

एक्सपर्ट्स और न्यूट्रिशनिस्ट के अनुसार, खाना खाने एक सही तरीका है धीरे-धीरे और कम मात्रा में और अंतराल पर खाना खाना। जब आप तनाव में होते हैं, तो आप जल्दी-जल्दी खाना खाते हैं और खाने के साथ हवा भी साथ के साथ जाती है। इससे आपके पेट में और गट में सूजन आ जाती है, जीके कारण पाचन सम्बन्धी समस्या होती है। आपको पाचन का एक सही क्रिया की पालन करने की आवश्यकता है - मुंह से लेकर ईओसफेगस तक आंत में। खाना खाने के बाद और पहले एक आसान पेट की मसाज का रोजाना अभ्यास करने से आपको बहुत बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है।

पेट की मसाज का अभ्यास कैसे करें –

  • योग मैट जमीन पर बिछाएं और सीधा लेट जाएं।

  • ध्यान रखें आपके घुटने मुड़े हो और पंजें जमीन पर टिकें हो

  • अब अपने दोनों हाथों को पेट के ऊपर रखें और गोलाई में मसाज करना शुरू करें। आप क्लॉकवाइस और एंटी क्लॉकवाइस करना है।

  • जब मसाज करें तो सांस लेने और छोड़ने पर जरूर ध्यान दें।

  • जहां दर्द महसूस हो रहा हैं वहां आप थोड़ा दबाव डाल सकते हैं। जब तक पेट के निचले क्षेत्र पर आराम न आ जाये तब तक मसाज करते रहें।

  • आप अपने पानी पीने की आदत को बढ़ाएं। इस बात का ध्यान रखें कि आप रोजाना 6 ग्लास पानी जरूर पिएं। इससे पेट फूलने और बदहजमी की समस्या दूर रहेगी।