close button
In 7 Tarikon Se Durust Rakhein Apna Mansik Swasthya

इन सात तरीकों से दुरूस्त रखें अपना मानसिक स्वास्थ्य (In 7 Tarikon Se Durust Rakhein Apna Mansik Swasthya)

मानसिक स्वास्थ्य क्या है? हो सकता है आप में से बहुतों को यह सवाल परेशान करता हो। मानसिक स्वास्थ्य किसी भी चीज को हमारी सोचने, समझने और महसूस करने की प्रक्रिया है। आज के भागदौड़ भरे माहौल में ज्यादातर लोगों को मानसिक सुकून नहीं है।  इसकी कई वजह हैं जो मेंटल हेल्थ को प्रभावित करती हैं।

स्वस्थ खान-पान का अभाव खुद को समय न देना या फिर माहौल। लेकिन जिस तरह आप अपने शरीर की देखभाल करते हैं उसी तरह आपको अपने मस्तिष्क का भी ख्याल रखना पड़ेगा। जब हम अपने मस्तिष्क का भी ख्याल रखने लगते हैं तब आपके विचार भी स्वस्थ होते हैं और आप स्वस्थ महसूस करते हैं।


इसके लिए पांच तरीके हैं जिन्हें अपनाकर आप मस्तिष्क को भी स्वस्थ बना सकते हैं-

1- शरीर का ध्यान रखें (Take Care of your Physical Health)


  • हमारा शरीर और मस्तिष्क एक दूसरे से जुडें हुए हैं। जब आप अपने शरीर का ध्यान रखते हैं तो मस्तिष्क का भी ध्यान रखते हैं। इसके भी कई प्वाइंट हैं।
  • अच्छा खाएं। खाना हमारे शरीर में फ्यूल की तरह काम करता है। खाने से ही हमें पौषक तत्व मिलते हैं जो कि शरीर को कार्य करने में मदद करते हैं ऊर्जा देते हैं। भोजन से ही मस्तिष्क भी बेहतर कार्य कर पाता है।
  • नियमित खाएं जिससे जिससे शरीर को लगातार ऊर्जा मिलती रहे। खाना छोड़ने से शरीर और मस्तिष्क दोनों ही थका हुआ महसूस करते हैं।
  • बहुत ज्यादा कैफीन से बचें। कैफीन की ज्यादा मात्रा आपकी नींद को प्रभावित कर सकती है।
  • यह भी ध्यान रखें कि आप कितना मीठा खा रहे हैं। मीठा खाने से आप उस वक्त ऊर्जामय महसूस कर सकते हैं लेकिन कुछ समय बाद आप पहले से भी ज्यादा थका हुआ महसूस करने लगेंगे।
  • एल्कोहल से दूर रहें। एल्कोहल पीने से सेडनेस बढ़ सकती है। साथ ही इससे तनाव भी धीरे-धीरे बढ़ने लगता है जिसे बाद में नियंत्रित करना मुश्किल होता है।

2. व्यायाम (Physical Exercise)

व्यायाम से आपका शरीर दुरूस्त और मस्तिष्क स्वस्थ रहता है। व्यायाम करने के लिए बहुत ज्यादा समय देने की जरूरत नहीं है। पूरे दिन में केवल 30 मिनट का व्यायाम भी आपके मानसिक स्वास्थ्य में सकारात्मक बदलाव ला सकता है।

  • कुछ ऐसे व्यायाम चुनें जिन्हें करने में आप आरामदायक और खुशी महसूस करें।
  • देंखें कि व्यायाम करने के बाद आपमें क्या बदलाव आए हैं
  • व्यायाम अकेले की जगह किसी के साथ करें, ऐसा करने से आप दूसरों के साथ कनेक्ट हो पाएंगे और व्यायाम को ज्यादा एन्जॉय करेंगे।
  • जब भी आप तनाव महसूस करें टहलने जाएं। टहलना तनाव से मुक्ति पाने का सबसे आसान और त्वरित तरीका है।

3. भरपूर नींद लें (Enough Sleep)
सोने का आपके मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव पड़ता है। जब हम अच्छी और पर्याप्त नींद लेते हैं तो हम तनाव पर अच्छी तरह काबू पा सकते हैं, कन्सन्ट्रेट कर पाते हैं और सकारात्मक साचे पाते हैं।

आपको कितनी नींद चाहिए यह आपके अपने शरीर पर निर्भर करता है। यदि आप दिनभर में नींद महसूस नहीं करते हैं तो समझ लीजिए कि आपने पूरी नींद ली है। यदि आपको बेहतर नींद न आती हो तो-

  • सोने जाने से पहले व्यायाम न करें।
  • भारी खाना, एल्कोहल, सिगरेट और चाय-कॉफी या कोई अन्य पेय जिसमें कैफीन हो न पीएं।
  • सोने से पहले कुछ अच्छा पढ़ें।
  • सोने के लिए नींद की गोलियां कभी न लें।

4- सकारात्मक सोचें (Think Positive)

अच्छे मानसिक स्वास्थ्य का मतलब यह नहीं है कि सिर्फ अच्छे विचार ही सोचने हैं। जीवन में उतार चढ़ाव लगे रहते हैं ऐसे में समस्या का निदान सकारात्मक रूप से करना और सोचना ही अच्छे मानसिक स्वास्थ्य को दर्शाती हैं। सकरात्मक साचने के लिए कुछ यूं करें-

  • अपने साथ हुए किसी बुरे हादसे या घटना को हमेशा सोचते रहने से बचें।
  • किसी भी कार्य को लेकर यह न सोचें कि केवल बुरा ही होगा न ही यह कि केवल अच्छा होगा। सकरात्मक साचेते हुए जो भी होगा उसे स्वीकारने की प्रवृत्ति रखें।
  • आप कैसे दिखते हैं, या कोई आपको पसंद करता है या नहीं, इन सब बातों की परवाह न करें। लोग सूरत से नहीं सीरत से प्रभावित होते हैं।

5- जल्दबाजी न करें (Have Patience)

किसी भी कार्य को जल्दबाजी में न करें। न ही किसी भी कार्य को बोझ समझें। ऐसा करने से आप अनावश्यक दबाव में आते हैं जिसका प्रभाव आपके मस्तिष्क पर भी पड़ता है। बेहतर होगा कार्य को करने के लिए पर्याप्त समय रखें और तनाव रहित होकर कार्य करें।

6- सकारात्मक लोगों से मिलें (Meet Positive People)

घर में बंद रहने से बेहतर बाहर निकलें। दोस्तों से मिलें। हफ्ते में एक दिन ऐसे लोगों से जरूर मिलें जो सकारात्मक सोच रखते हैं और आपको भी सकारात्मक साचने के लिए प्रेरित करते हैं। ऐसा करने से आपका मानसिक विकास होता है और आप अपने विचार भी शेयर करके हल्का महसूस करते हैं।

7- हॉबी के लिए समय निकालें (Nurture your Hobby)

चाहें जितने भी व्यस्त हों लेकिन अपनी हॉबी के लिए समय जरूर निकालें। ऐसा करने से आप मानसिक रूप से भी खुद को तरोताजा महसूस करते हैं। मस्तिष्क में फील गुड हार्मोन का स्त्राव होता है जिससे आपकी मेंटल हेल्थ पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता हैं।

Mansik Swasthya, Mental Health, mental health Tips, मानसिक स्वास्थ्य, मानसिक स्वास्थ्य टिप्स, Health Tips, हेल्थ टिप्स

राशिफल

धर्म

शब्द रसोई से