गर्भनिरोधक गोलियों के उपयोग, फायदे और नुकसान - Contraceptive Pills Uses, Benefits and Side Effects in Hindi
गर्भावस्था

गर्भनिरोधक गोलियों के उपयोग, फायदे और नुकसान - Contraceptive Pills Uses, Benefits and Side Effects in Hindi

Health Raftaar

गर्भनिरोधक गोलियां परिवार नियोजन और अनचाहे गर्भ से छुटकारा पाने का सबसे आसान तरीका मानी जाती हैं। यह छोटी गोलियां बड़े काम की होती हैं। हालांकि हर दवाई की तरह इसके भी कुछ साइड इफेक्ट भी होते हैं। साइड इफेक्ट्स के अलावा इन गोलियों को कुछ खास परिस्थितियों में ना खाने की भी सलाद दी जाती है। आइए जानें इन गोलियों के प्रभाव और दुष्प्रभाव के बारे में: 

गर्भनिरोधक गोलियों के दुष्प्रभाव - Side Effects of Oral Contraceptive Pills in Hindi

1. वज़न बढ़ना - Weight Increasing

शादी-शुदा महिलाओं में इन गोलियों से वजन बढ़ने के एक आम समस्या होती है। दरअसल गर्भनिरोधक गोलियों में मौजूद प्रोजेस्टेरॉन और एस्ट्रोजन हार्मोन के साइड इफेक्ट से शरीर में पानी की मात्रा बढ़ जाती है और स्त्रियों का वजन बढ़ जाता है।

2. चक्कर आना एवं उलटी होना - Vomiting

गर्भनिरोधक गोलियों के प्रयोग से उलटी और चक्कर आना भी सामान्य माना जाता है। यह गोलियां हमारे हार्मोंस बैलेंस को प्रभावित करती हैं जिस कारण यह समस्या आती है।

3. सिरदर्द एवं नींद आना - Headache

गर्भनिरोधक गोलियों के लगातार सेवन से अकसर नींद आने, सिरदर्द होने आदि की समस्या देखने को मिलती है खासकर एस्ट्रोजन वाली गर्भनिरोधक गोलियां खाने के बाद। 

4. स्तनों की समस्या होना - Issues in Breast

गर्भनिरोधक गोलियों में एस्ट्रोजन (Estrogen) हार्मोन की मात्रा अधिक होती है जो अगर शरीर में एक तय मात्रा से अधिक हो जाए तो महिलाओं में स्तन से जुड़ी समस्याएं पैदा करता है। इसके कारण स्तन कैंसर का भी खतरा रहता है।

इन गोलियों के अन्य दुष्प्रभाव: 

  • खून का थक्का जमना 
  • आंखों के आगे धुंधलापन आना
  • बांहों तथा टांगों में कमजोरी
  • छाती में तेज दर्द और सांस लेने में कठिनाई

आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियों के दुष्प्रभाव - Side Effects of Emergency Contraception Pills

आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियों को बेहद संवेदनशील माना जाता है। इनके लगातार सेवन से हार्मोन पैटर्न बुरी तरह प्रभावित हो सकते हैं। आइए जानें इन छोटी गोलियों के बड़े नुकसान: 

  • मितली आना, चक्कर या उलटी आना 
  • पीरियड्स का अनियमित हो जाना 
  • बार-बार इस्तेमाल से प्रजनन क्षमता पर असर और बाद में बांझपन की समस्या होना। 
  • अनियमित रक्त प्रवाह 
  • पेट और ब्रेस्ट में तेज दर्द 
  • महिलाओं को ओवरी (Ovary) से संबंधित समस्याएं होने का खतरा 

गर्भनिरोधक गोलियों के फायदे - Benefits of Oral Contraceptives Pills

गर्भनिरोधक गोलियों का सबसे बड़ा फायदा तो यह होता है कि वह आपको अनचाहे गर्भ से मुक्ति दिलाते हैं। इसके अलावा गर्भ निरोधक गोलियों के सेवन से कई फायदे (Advantages of Contraceptive Pills) भी होते हैं जो निम्न हैं: 

  • मासिक धर्म चक्र नियंत्रित रहता है। 
  • पीरियड्स के दर्द को कम करने में सहायक होता है। 
  • मुंहासे और त्वचा से जुड़ी अन्य समस्याएं दूर होती है। 
  • यह गोलियां एनीमिया (Anemia) और पेल्विक (Pelvic) समस्याओं से बचाव करने में सहायक होती हैं।

नोट : उपरोक्त फायदे केवल गर्भनिरोधक गोलियों के हैं, आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियों के नहीं। आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन केवल इमरजेंसी में किया जाना चाहिए, इसे लगातार इस्तेमाल करना हानिकारक हो सकता है।