ब्लूबेरी के फायदे और नुकसान - Blueberry Benefits and Side Effects in Hindi
आहार

ब्लूबेरी के फायदे और नुकसान - Blueberry Benefits and Side Effects in Hindi

Health Raftaar

ब्लूबेरी - Blueberry for Health in Hindi

ब्लूबेरी को नीलबदरी व अन्य नामों से भी जाना जाता है, जो एक स्वादिष्ट फल होने के साथ- साथ कई औषधीय गुणों से भी भरपूर है। छोटे व गोल आकार के ब्लूबेरी नीले रंग के होते हैं। इनका स्वाद खट्टा- मीठा होता है। इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व और एंटी-ऑक्सीडेंट होने के कारण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाता है, जो हाइपरटेंशन, मधुमेह, ब्लड प्रेशर, मोटापे व अन्य बीमारियों में लाभकारी सिद्ध होता है। 

ब्लूबेरी में कैलोरी, सोडियम, पोटैशियम, कार्बोहाइड्रेट, मैग्नेशियम, कैल्शियम, आयरन, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन डी, विटामिन बी6, विटामिन बी12 व अन्य पोषक तत्व होते हैं। इसलिए यह कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से भी बचाता है। इसका नियमित रूप से सेवन करने से कई खतरनाक बीमारियों से सुरक्षित रहते हैं। 

ब्लूबेरी में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाया जाता है, जो त्वचा की सभी समस्याओं को दूर करता है। ब्लूबेरी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, कीटाणुओं को नष्ट कर कोशिकाओं को नुकसान होने से बचाता है। ब्लूबेरी हानिकारक एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को भी संतुलित रखता है, जिससे झाइयों और झुर्रियों की समस्या नहीं होती।

ब्लूबेरी के फायदे - Benefits of Blueberry in Hindi

मोटापा - Obesity

ब्लूबेरी का नियमित सेवन करने से पेट के पास जमा चर्बी दूर होती है। दरअसल ब्लूबेरी में कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है और इसमें मौजूद फाइबर मोटापे या अत्यधिक चर्बी को नियंत्रण में रखता है। कई रिसर्च से यह साबित हुआ है कि ब्लूबेरी खाने से शरीर में शुगर का स्तर कम होता है, जो मोटापे की समस्या को पनपने नहीं देता।

मधुमेह - Diabetes

मधुमेह, शुगर या शक्कर की बीमारी पर नियंत्रण के लिए ब्लूबेरी का सेवन बहुत जरूरी माना गया है। जर्नल ऑफ न्यूट्रीशन के अनुसार, ब्लूबेरी के पत्तों में एंथोसियानीडीनस नामक तत्व पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, जो मेटाबॉलिज्म प्रक्रिया को संतुलित कर ग्लूकोज को शरीर के सभी भागों में सुचारु रूप से पहुंचाता है। जिसके फलस्वरूप खून में शुगर संतुलित रहती है, और मधुमेह जैसी बीमारी से बचाव होता है।

तनाव - Stress

मानसिक तनाव जैसी परेशानी में ब्लूबेरी बहुत फायदेमंद साबित हो सकती है। ब्लूबेरी में बायो-एक्टिव पदार्थ "एंथोकायनिंस" का गुण होता है, जो मानसिक तनाव को दूर करने में आपकी मदद कर सकता है। हफ्ते में दो से तीन बार मुट्ठी भर ब्लूबेरी खाने से तनाव से छुटकारा मिलता है।

दिल की बीमारी - Heart Disease

अमेरिकी कृषि विभाग की शोध के अनुसार ब्लूबेरी खाने से हार्ट अटैक की संभावनाएं कम होती है। ब्लूबेरी धमनियों में खून का थक्का बनने नहीं देता, जो दिल के दौरे की मुख्य वजह होता है। ब्लूबेरी में फ्लेवोनॉयड के गुण भी पाये जाते हैं, जो दिल से जुड़ी समस्याओं को दूर करता है।

कैंसर - Cancer

ब्लूबेरी के सेवन से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से भी बचा जा सकता है। ब्लूबेरी में एलेगिक एसिड तथा टेरोस्टिलबीन नामक तत्व होता है जो कैंसर से बचाव करने में सहायक होता है।

आंखों की बीमारी - Eye Problems

ब्लूबेरी में पाया जाने वाला एंथोसाइनोसाइड्स नामक पोषक तत्व आंखों की रोशनी बढ़ाता है और आंखों से जुड़ी सभी समस्याओं से भी बचाता है। इसके अतिरिक्त यह मोतियाबिंद और मायोपिया जैसी बीमारियों में भी लाभकारी सिद्ध होता है।

याददाश्त - Memory

बढ़ती उम्र में याददाश्त का कमजोर होना आम बात है, लेकिन यदि आप ब्लूबेरी का सेवन करते हैं, तो आपकी याददाश्त कभी कमजोर नहीं हो सकती। इसलिए याददाश्त बढ़ाने के लिए ब्लूबेरी का सेवन बेहद जरूरी है।

पाचन - Digestion

ब्लूबेरी फाइबर का बहुत अच्छा स्रोत माना जाता है, जिससे कब्ज और पाचन समस्याएं दूर रहती हैं। इसमें पाये जाने वाले मिनरल और अन्य पोषक तत्व पाचन शक्ति को मजबूत बनाते हैं।

ब्लूबेरी से सावधानी - Precaution from Blueberry in Hindi

शुगर की कम मात्रा - Hypoglycemia

ब्लूबेरी, खून में शक्कर (शर्करा) की मात्रा को कम करने में बहुत मदद करता है। लेकिन कई बार इसके अधिक सेवन से या लगातार सेवन से खून में शुगर यानी शक्कर की मात्रा जरूरत से ज्यादा कम हो जाती है, जो रोगी के लिए खतरनाक साबित हो सकती है।

हैपेटाइटिस ए - Hepatitis - A

न्यू ज़ीलैंड में किए गए शोध के अनुसार, ब्लूबेरी के अत्यधिक सेवन या कच्चे ब्लूबेरी का सेवन करने से हैपेटाइटिस ए जैसी गंभीर समस्या हो सकती हैं। इस रोग की पुष्टि डीएनए (DNA) से प्राप्त वायरस से हुई है।