आर्निका के फायदे और नुकसान - Arnica Benefits and Side Effects in Hindi
आहार

आर्निका के फायदे और नुकसान - Arnica Benefits and Side Effects in Hindi

Health Raftaar

आर्निका - Arnica Herb for Health in Hindi

आर्निका का जिक्र होते ही हेयर ऑयल (बालों में लगाने वाला तेल) याद आता है। लेकिन, क्‍या आपको पता है कि आर्निका का इस्तेमाल सिर्फ तेल के रूप में ही नहीं बल्कि, एक औ‍षधि के रूप में भी किया जाता है। आयुर्वेद व होम्‍योपैथी में आर्निका को बहुत ही महत्त्वपूर्ण औषधि माना गया है, जिसका उपयोग कई रोगों के उपचार में किया जाता है।

आर्निका औषधि का सेवन नहीं किया जाता, बल्कि बाहृय तौर पर इस्‍तेमाल में लाया जाता है। आर्निका में कई प्रकार के जीवाणु नाशक और औषधीय गुण पाये जाते हैं, जो सूजन, जलन, एंटीसेप्टिक (चोट लगने पर), गठिया का दर्द, नसों के दर्द, व अन्य परेशानियों को दूर करने में लाभकारी सिद्ध होता है।

आर्निका के फायदे - Benefits of Arnica

अर्थराइटिस - Arthritis

आर्निका, गठिया यानि अर्थराइटिस के दर्द को दूर करने में मदद करता है। एक शोध के अनुसार गठिया या अर्थराइटिस के दर्द और जकड़न को दूर करने में आर्निका जैल बहुत ही फायदेमंद होता है। डेढ़ महीने तक दिन में दो बार आर्निका जैल उपयोग करने से गठिया जैसे रोगों में आराम मिलता है।

सूजन - Swelling

होम्‍योपैथी में आर्निका का उपयोग खासतौर पर किया जाता है, क्योंकि यह शरीर की सूजन से आराम दिलाता है। इसके अलावा आर्निका, दर्द व जलन को कम और चोट से उभरने में मदद करता है। किसी भी तरह के ऑपरेशन के बाद अक्सर शरीर के हिस्से में सूजन हो जाती है, इस तरह सूजन को कम करने में आर्निका बहुत ही लाभदायक होता है। है।

एंटी बैक्‍टीरियल - Anti Bacterial

आर्निका हर्ब में कई बैक्‍टीरिया नाशक गुण पाये जाते हैं, जो त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं एक्‍ने, जलन, फटे होंठ, एक्जिमा, नाक की सूजन व अन्य परेशानियों में रोगी के लिए लाभदायक होते हैं।

बालों की समस्याएं - Hair Problems

आर्निका में कई औषधीय गुण होते हैं, जिनमें से कुछ बालों की समस्याओं को दूर करने और बालों को स्‍वस्‍थ बनाने में मदद करते हैं। आर्निका तेल बालों को समय से पहले सफेद होने व टूटने से बचाता है, और उन्हें घना तथा मजबूत बनाता है।

दर्द और चोट - Pain and Injury

यदि कोई व्यक्ति चोट व दर्द की समस्या से परेशान है तो दिन में दो बार शरीर के चोट, सूजन या दर्द भाग पर आर्निका जैल लगाने से रोगी को आराम मिलता है।

मसूड़ों और दांतों का दर्द - Gums and Tooth Ache

यदि आप दांतों और मसूड़ों के दर्द या संबंधित समस्याओं से परेशान हैं, तो आप आर्निका का उपयोग कर सकते हैं। इसके प्रभाव से मसूड़ों में सूजन, दर्द, मसूड़ों से खून आना, दांत में दर्द व अन्य परेशानियां दूर होती हैं और दांत मजबूत होते हैं।

प्रसव पीड़ा - Delivery Pain

होम्‍योपैथी के अनुसार आर्निका प्रसव पीड़ा को भी कम करता है। डिलीवरी यानि प्रसव के आर्निका गोली का सेवन (30 पोटेंसी) करने से महिलाओं को प्रसव पीड़ा कम होती है। इन गोलियों का सेवन दिन में पांच बार लगभग 10 से 15 दिन तक करना चाहिए।

आर्निका से सावधानी - Precaution from Arnica in Hindi

सावधानियां - Precautions of Arnica

एलर्जी - Allergy

आर्निका के अत्यधिक इस्तेमाल से एलर्जी होने का खतरा बढ़ सकता है। यदि आपकी त्वचा संवेदनशील है तो आर्निका का इस्तेमाल करने से पहले योग्य वैद्य या डॉक्टर की सलाह जरूर लें। अन्यथा एलर्जी हो सकती है।