close button

सोरायसिस (Psoriasis)

सोरायसिस त्वचा की ऊपरी सतह का चर्म रोग है जिससे त्वचा में कोशिकाओं (Cells) की तादाद बढने लगती है और त्वचा के ऊपर मोटी परत जम जाती है। सोरायसिस की बीमारी में सामान्यतः त्वचा पर लाल रंग की सतह उभरकर आती है। यह खोपड़ी (Scalp), हाथ-पाँव अथवा हाथ की हथेलियों, पाँव के तलवों, कोहनी, घुटनों और पीठ पर अधिक होती है। सोरियासिस रोग (Psoriasis) संक्रामक किस्म का रोग नहीं है। रोगी के संपर्क से अन्य लोगों को कोई खतरा नहीं है। 

 

सोरायसिस के विषय में अधिक जानकारी (Details of Psoriasis in Hindi)

यह रोग वैसे तो किसी भी आयु में हो सकता है लेकिन 10 वर्ष से कम आयु में यह रोग बहुत कम होता है। पंद्रह से चालिस की उम्र  में यह रोग ज्यादा होता है। लगभग 1 से 3 प्रतिशत लोग इस बीमारी से पीडित हैं। सोरायसिस एक बार ठीक हो जाने के बाद कुछ समय पश्चात पुनः उभर जाता है और कभी-कभी अधिक उग्रता के साथ प्रकट होता है। ग्रीष्मऋतु की अपेक्षा शीतऋतु में इसका प्रकोप अधिक होता है। यह रोग अनुवांशिक भी हो सकता है। कई लोग इसे चर्मरोग (Charm Rog) या छालरोग भी कहते हैं। 

 

Psoriasis, सोरायसिस, Skin Disease, Charm Rog, चर्मरोग, Hindi

त्वचा से जुड़े अन्य रोग

त्वचा केयर

Skin Care

राशिफल

धर्म

शब्द रसोई से