close button

दूरदर्शिता या दूरदृष्टि दोष (Hyper Myopia)

दूरदर्शिता या दूरदृष्टि दोष (Hyper Myopia)

दूरदर्शिता या दूरदृष्टि दोष, में कोई भी व्यक्ति दूर की चीज़ों को आसानी से और साफ़ देख सकते हैं जबकि इसमें करीब की चीज़े धुंधली (blurr) दिखाई देती हैं। दूरदृष्टि दोष को स्वास्थ्य की भाषा में हाइपरोपिया (hyperopia) कहते हैं। दूरदृष्टि दोष कितना गंभीर है यह आपके देखने की क्षमता पर निर्भर करता है।

देखने के लिए आँख के दो भाग जिम्मेदार होते हैं, कॉर्निया और लेंस। कॉर्निया आँख के सामने का पारदर्शी हिस्सा होता है जबकि लेंस आँख के अंदर बना होता है जो कि चीज़ों को देखने पर उनके शेप में भी बदलाव करता है। कॉर्निया और लेंस दोनों एक साथ कार्य करते हैं और आने वाली रोशनी को मिलाते हैं और इसे रेटिना पर फोकस करते हैं। रेटिना, आई बॉल यानी आँख के गोले के पीछे होता है। जब आँख में प्रकाश प्रवेश करता है तो उस पर ठीक से फोकस नहीं हो पाता, यही दूर दृष्टि दोष होता है। यदि आँख का गोला सामान्य से छोटा हो तब भी दूर दृष्टि दोष हो सकता है। दूर दृष्टि दोष बहुत आम समस्या है जिसे आसानी से ठीक भी किया जा सकता है।

 

Hyper Myopia, दूरदृष्टि दोष, Farsightedness, Doordrishti Dosh, Hindi

राशिफल

धर्म

शब्द रसोई से