close button

डायरिया (Diarrhea)

डायरिया (Diarrhea)

लगातार लूज मोशन यानि पतला दस्त आना, उल्टी होना डायरिया कहलाता है। डायरिया वायरल, बैक्टेरियल संक्रमण के कारण तो होता ही है लेकिन सबसे कॉमन कारण है खान-पान में गड़बड़ी, प्रदूषित पानी और आंत की गड़बड़ी। दिन में अगर तीन से अधिक बार पानी के साथ पतला दस्त हो रहा हो तो यह डायरिया का लक्षण है।

डायरिया में शरीर में पानी की कमी हो जाती है जिसे डिहाइड्रेशन कहते हैं जो काफी गंभीर होता है। इससे शरीर कमजोर हो जाता है, शरीर में संक्रमण फैलने का खतरा काफी बढ़ जाता है। समय पर इलाज नहीं होने पर मरीज की जान भी जा सकती है।

आम तौर पर डायरिया 3 से 7 दिनों तक परेशान करता है। डायरिया वैसे तो कभी भी हो सकता है, लेकिन बरसात में वायरल डायरिया ज्यादा परेशान करता है। इसकी वजह गंदा पानी और खाना-पीना है। डायरिया अचानक हो जाता है और कोर्स पूरा होने के बाद ही खत्म होता है। पेट में ज्यादा एसीडिटी बनने से भी डायरिया होती है। यह सभी उम्र के लोगों को परेशान करता है। एक्यूट डायरिया (Acute Diarhea) वयस्कों को साल भर में एक बार और बड़े बच्चों को दो बार होता है। इस बीमारी में सबसे ज्यादा खतरा डिहाइड्रेशन से होता है, जिसमें शरीर से सारा पानी और खत्म हो जाता है। आंत में पानी जाने से पहले ही वो पास हो जाता है।

 

डायरिया के प्रकार (Types of Diarrhea)

  • क्रॉनिक डायरिया (Chronic Diarrhea)
  • एक्यूट इंटरेटाइटिस (Acute Enteritis)
  • गैस्टरोइंटरेटाइटिस (Gastroenteritis)
  • डिसेंट्री (Dysentery)

 

Diarrhea, डायरिया, Dysentery, Loose Motion, Pechis, Pet Kharab Hona, लूज मोशन, पेचिस, Hindi

राशिफल

धर्म

शब्द रसोई से