close button
Natural Hair Products For Healthy Hair

नेचुरल हेयर प्रोडक्टस जो रखें आपके बालों को स्वस्थ (Natural Hair Products For Healthy Hair)

कलर, डाई, जेल या अन्य हेयर प्रोडक्ट्स बालों की सेहत को बिगाड़ते हैं। बालों की सेहत बालों की जड़ से है। बालों की जड़ों को पोषण कुदरती जड़ी-बूटियों, तेल, पत्तियों के पेस्ट और फलों के हेयर पैक से मिलती है। आइए जानते हैं उन नेचुरल हेयर प्रोडक्ट्स के बारे में जो बालों की जड़ों को पोषण देते है और बालों को सेहतमंद बनाते हैं।

महाभृंगराज (Mahabhringraj)

महाभृंगराज को बालों की देखभाल में सर्वोत्तम माना गया है। इसे आयुर्वेद में हर्बल किंग के नाम से जाना जाता है। यह बालों को सफेद होने, झड़ने और टूटने से बचाता है। इसके इस्तेमाल से बाल काले, घने, लंबे और चमकदार बने रहते हैं। भृंगराज का सेवन सुबह चूर्ण बना कर खाने में किया जाता है। इसके बने तेल को भी बालों की जड़ों में लगाया जाता है। इसे पीस कर पेस्ट बनाते हैं और फिर बालों में लगाते हैं।

सुगंधित जटामांसी (Spikenard)

इस जड़ी-बूटी का इस्तेमाल आयुर्वेद में हेयर ग्रोथ के दवा के रुप में किया जाता है। इसे आप कैप्सूल की तरह खा भी सकते हैं और इसे सीधे बालों की जड़ में लगा भी सकते हैं। इसे लगाने से बालों में चमक आता है और यह रक्त की अशुद्धि को भी दूर करता है।

मेथी (Methi)

मेथी सबसे प्रचलित हर्ब्स है जो हर घर के किचन में दाल को छौंकने और कई तरह के व्यंजनों में इस्तेमाल किया जाता है। आयुर्वेद में इसे हेयर ग्रोथ के लिए दवा के रुप में इस्तेमाल किया जाता है। सूखे और भुने हुए मेथी को ग्राइंडर में कूट लें। इसके चूर्ण को गरम पानी में मिला कर पेस्ट बना लें और इस पेस्ट को बालों में लगा लें। करीब 20 मिनट के बाद बालों को धो लें। बाल काले, घने और लंबे होंगे।

आंवला (Anvala)

बालों की देखभाल में आंवला का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है। यह आसानी से मिलता है और नेचुरल हेयर प्रोडक्टस में इसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। बालों के झड़ने-गिरने की समस्या का सबसे सटीक इलाज आंवला के सेवन से ही होता है। आंवला जल से बाल धोना, बालों की जड़ में आंवला तेल की मालिश, सुबह आंवला चूर्ण का सेवन समेत आंवले का इस्तेमाल कई तरीके से बालों की देखभाल के लिए किया जाता है। आंवला में विटामिन सी की मात्रा सबसे ज्यादा होती है जो हेयर ग्रोथ के लिए काफी जरुरी है।

शिकाकाई (Shikakai)

लंबे और रेशमी बालों के लिए बालों को शिकाकाई से धोना सबसे कारगर उपाय है। शिकाकाई के इस्तेमाल से केश सफेद नहीं होते और बाल काले, घने और लंबे होते हैं। शिकाकाई और सूखा आंवला 25-25 ग्राम कूट लें। रात में दोनों को आधा लीटर पानी में भींगने के लिए छोड़ दें। सुबह इस पानी को मसलकर कपड़े से छान लें और इसे सिर पर मलें। बालों की जड़ों की मालिश करें। दस मिनट बाद स्नान कर लें। केश सूखने के बाद केश में नारियल तेल लगाएं। केश रेशम की तरह मुलायम और चमकदार हो जाते हैं।

रीठा (Reetha)

रीठा को आयुर्वेद में स्वदेशी शैंपू के नाम से जाना जाता है। बालों के सौंदर्य निखार के लिए रीठे से बाल धोने को सबसे कारगर उपाय माना गया है। इसके इस्तेमाल से बाल मुलायम और चमकीले होते हैं। रात में रीठे के छिलके के छोटे-छोटे टुकड़े करके पानी में भिंगो दें। सुबह उस पानी को मसलकर अथवा उबाल कर छान लें। फिर उस पानी से बाल धोएं। इसे आजमाने से बाल मुलायम और रेशम की तरह चमकीले होते हैं।

और भी हैं कई नेचुरल हेयर प्रोडक्टस (Other Natural Hair Products)

  • करी पत्ता
  • ब्राह्मी
  • एलोवेरा
  • नींबू और खीरा
  • एप्पल साइडर विनेगर
  • एवाकोडो
  • तुलसी पत्ता
  • नीम
  • अश्वगंधा
  • जाजोबा तेल
  • अरंडी तेल
  • बेकिंग शोडा शैंपू
  • मुल्तानी मिट्टी शैंपू
  • अंडे का हेयर मास्क

Hair, बाल, Kesh, Baal, केश, Prakritik Tarike, Natural Hair Products, Healthy Hair, नेचुरल हेयर प्रोडक्टस, Beauty Tips, ब्यूटी टिप्स

राशिफल

धर्म

शब्द रसोई से