close button

इन 6 तरीकों से करें मेकअप (Top 6 Makeup Tips)

नैन-नक्श को कौन नहीं संवारना चाहता। घर में हैं तो कोई बात नहीं, मगर पार्टी में जाना हो, शॉपिंग करने जाना हो या फिर ऑफिस तो मेकअप जरूरी है। अगर मेकअप के सभी टिप्स के बारे में आपको बारीकी से जानकारी है तो आप आसानी से अपने चेहरे पर से कील-मुहांसे, झाइयां, दाग-धब्बे और यहां तक की एजिंग के निशान को भी छिपा सकते हैं।

इस बात को ध्यान में रखें कि हेवी मेकअप कभी भी आपके चेहरे को स्मार्ट और यंग लुक नहीं दे सकता है। मेकअप हमेशा लाइट ही होना चाहिए। हेवी मेकअप स्किन की सेहत को भी नुकसान पहुंचा सकता है।

सिंपल और लाइट मेकअप के तीन ही मंत्र हैं - सनस्क्रीन, मस्कारा और लिप ग्लॉस। आइए जानते हैं मेकअप के छह आसान टिप्स (Make up Tips), जो आपकी खूबसूरती में निखार लाएंगे।

सनस्क्रीन से शुरुआत करें (Start with Sunscreen)

यंग लुक के लिए चेहरे की त्वचा पर ओस की बूंदों की तरह ताज़गी और आभा होनी जरूरी है। चाहे बरसात हो या तेज धूप, चेहरे पर हर दिन सबसे पहले सनस्क्रीन लगाने की आदत डालें।

अगर आपकी त्वचा शुष्क है तो टिंटेड मॉइश्चराइजर जिसमें सनस्क्रीन (SPF 50) भी हो, लगाएं। यह फाउंडेशन का काम करेगा। अगर आपकी स्किन ऑयली है तो चेहरे को गुनगुने पानी से धो कर सुखा लें और फिर उसके बाद सनस्क्रीन लगाएं।

कंसीलर (Concealer)

कंसीलर चेहरे के मुहांसों, दाग-धब्बों और आँखों के नीचे डार्क सर्कल को छिपाने के लिए बेस्ट है। ध्यान रहे हमेशा स्किन टोन से मेल खाती हुई कंसीलर ही इस्तेमाल करें। इसे बीच वाली उंगली यानि रिंग फिंगर के पोर में लेकर चेहरे पर लगाएं। फिर उसे स्पॉन्ज से फैलायें।

कंसीलर को चेहरे के उसी स्पॉट पर लगाएं जहां इसकी ज्यादा जरुरत है। मसलन आंख के नीचे, नाक के बगल में और गालों पर। अगर उंगलियों से खास स्पॉट पर कंसीलर लगाना मुश्किल हे तो ब्रश का इस्तेमाल किया जा सकता है।

ध्यान देने योग्य बातें (Things to Check with Concealer)

  • त्वचा शुष्क है तो लिक्विड कंसीलर लगाएं।
  • दाग-धब्बों को छिपाने के लिए सॉलिड कंसीलर सबसे अच्छा होता है।
  • लिक्विड या क्रीम बेस्ड फाउंडेशन लगाने के बाद कंसीलर लगाएं।
  • कंसीलर ज्यादा न लगाएं। कंसीलर का मतलब चेहरे पर हलका टिंट देना है न कि मास्क लगाना।

फाउंडेशन (Foundation)

चेहरे पर टिंटेड मॉइश्चराइजर या फांउडेशन लगाएं। फांउडेशन लगाने के लिए फोम स्पंज का यूज कर सकती हैं। फांउडेशन वहीं लगाना चाहिए जहां स्किन के कलर में फर्क नजर आता हो।

जाड़े के दिनों में गाल की त्वचा भी ड्राय हो जाती है और त्वचा अपनी कुदरती रंग खो देता है। इन दिनों में गाल पर भी टिंटेड मॉइश्चराइजर या फांउडेशन लगा सकती हैं। फाउंडेशन स्किन टोन में चमक लाती है।

ध्यान देने योग्य बातें (Things to Check with Foundation)

  •  ध्यान रहे फाउंडेशन आपकी स्किन टोन से एकदम मेल खाता हुआ होना चाहिए।
  •  चेहरे पर ग्लो लाने के लिए फाउंडेशन लगाने से पहले मॉश्चराइजर लगाएं।
  •  स्किन टोन डार्क है तो उसे लाइट कलर फांउडेशन से नहीं छिपाएं।
  •  पीली रंगत वाली त्वचा पर लाइट ऑरेंज टिंट वाला फाउंडेशन लगाना चाहिए।

ब्लश या ब्रोंजर (Blush or Bronzer)

ब्लश गालों की शेप और चेहरे की रंगत को उभारता है। इसे आमतौर पर डिंपल यानि गालों के उभार वाले हिस्से को गुलाबी लुक देने के लिए लगाया जाता है। ब्लश लगाने को लिए हाइलाइटर पेन या ब्रश का इस्तेमाल कर सकती हैं।

ध्यान देने योग्य बातें (Things to Check with Blush or Bronzer)

  • ब्लश हमेशा स्किन टोन को ध्यान में रख कर लगाएं।
  • यदि आपकी गुलाबी स्किन टोन है तो नेचुरल कलर ब्लश लगाएं।
  • पाउडर ब्लश लगाने में ब्रश का इस्तेमाल करें।
  • क्रीम ब्लश लगाने में स्पंज का इस्तेमाल करें।
  • मेकअप किट में 3-4 शेड के ब्लश कलर्स रखें, जैसे- रोज पिंक, नेचुरल पिंक, पिंक और बैंगनी।

आइलाइनर, आईशैडो और मस्कारा (Eyeliner, Eyeshadow and Mascara)

चेहरे को फिनिशिंग लुक देने के बाद आंखों के मेकअप की बारी आती है। चेहरे की सुंदरता में आंखों की खूबसूरती चार चांद लगाती है। आंखों की सुंदरता पलकों को आउटलाइन करने या पलकों में उभार लाने से आती है। यह उभार आईलाइनर लगाने से आता है।

आईलाइनर लगाने के कई तरीके हैं, मेकअप एक्सपर्ट की भाषा में आंखों की सुंदरता को तीन भागों में बांटा गया है- बेसिक आई (Basic Eye), स्मोकी आई (Smoky Eye) और कैट आई (Cat Eye)।

बेसिक आई के लिए ऊपर और नीचे की पलकों पर आईलाइनर लगाना होता है। आंखे छोटी हों या बड़ी, आईलाइनर या पेंसिल से उसे बड़ा या छोटा का लुक दिया जा सकता है। आई शैडो भी लगा सकती हैं। मस्कारा आंखों की पलकों को घना करता है। इसे लगाने से आंखे बड़ी और खूबसूरत दिखती हैं। मस्कारा आईलैशेज (Eyelashes) के नीचे लगाई जाती है।

ध्यान देने योग्य बातें (Things to Check with Eyeliner, Eyeshadow and Mascara)

  • आंखें छोटी हैं तो आईलाइनर ऐसे लगाएं जिससे आईब्रो पतली दिखें। आई शैडो आई लिड के साथ-साथ नीचे की आईलैशेज पर भी लगाएं। ऊपर और नीचे दोनों तरफ काजल पेंसिल लगाएं।
  • अगर आंखें अंदर की ओर धंसी हुई हैं तो आंखों में उभार लाने के लिए आंखों के ऊपर और नीचे दोनों लिडस पर काजल पेंसिल लगाएं। आईब्रो के बोन पर डार्क कलर का आई शैडो लगाएं।
  • आंखें ज्यादा बड़ी हैं तो आई लिड पर गहरे रंग का आई शैडो लगाते हुए उसे ऊपर आईब्रो की तरफ ब्लेंड कर दें।

लिप लाइनर, लिप ग्लॉस, लिप बाम या लिपस्टिक (Lip Liner, Lip Gloss, Lip Balm or Lipstic)

होठों को किस तरह का ट्रीटमेंट देना है ये आप पर निर्भर करता है। कोई सिर्फ लिप लाइनर से काम चला लेता है तो कोई होठों पर कलरफुल लिप ग्लॉस लगाता है और कोई लिप बाम। मेकअप एक्सपर्ट की मानें तो लिपस्टिक से बेहतर कलरफुल लिप ग्लॉस है।

सिल्की और नॉनस्टिकी लिप ग्लॉस से होठ नर्म रहते। लिप ग्लॉस में मौजूद विटामिन-ई होठों पर पपड़ी नहीं बनने देती है और होठ खूबसूरत दिखाई देते हैं।

ध्यान देने योग्य बातें (Things to Check with Lip Liner, Lip Gloss, Lip Balm or Lipstic)

  • मोटे होठों पर कभी भी लिप ग्लॉस नहीं लगाएं, इससे होठ अधिक मोटे दिखने लगते हैं।
  • अगर होठ मोटे हैं तो होठों के किनारे पर लिप लाइनर लगा कर लिप्स को सिर्फ हाइलाइट करें।
  • लिप्स के दोनों किनारे पर कंसीलर लगाने से लुक अच्छा आता है।
  • पिंक और उससे मिलते जुलते लिप ग्लॉस के शेडस लिप्स पर बहुत खिलते हैं।
  • लिपस्टिक लगाने के बाद लिप ग्लॉस का कोट लगाएं।
  • अगर होंठों का आकार ठीक नहीं है तो होठों के किनारे को लिप लाइनर पेंसिल से हाइलाइट कर पहले शेप दें। ऐसे होठों पर एक ही कलर के दो शेड वाली लिपस्टिक लगाएं। डार्क शेड से होठ के मोटे भाग को भरें और लाइट शेड से पतले भाग को।

Face, चेहरे, Chehre, फेस, Makeup Karne Ke Tarike, Top Makeup Tips, मेकअप टिप्स, Beauty Tips, ब्यूटी टिप्स, Hindi

चेहरा संबंधित अन्य जानकारी

राशिफल

धर्म

शब्द रसोई से