close button
Yoga Asans To Reduce Tension

योग आसन से दूर करें तनाव (Yoga Asans To Reduce Tension)

आजकल की बिजी लाइफ में छोटे बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी तनाव में रहते हैं। तनाव किसी भी प्रकार का हो सकता है पारिवारिक, कामकाजी या सामाजिक। हर कोई जीवन की भागदौड़ में सामंजस्य बनाये रखने की कोशिश में तनाव से ग्रस्त हो गया है। 

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक चिंता, तनाव और मनोरोग दूर करने का सबसे आसान तरीका है योग। इससे न सिर्फ शरीर निरोगी बनता है बल्कि तनाव संबंधी हार्मोन भी नियंत्रित होते हैं। ब्लड प्रेशर, कैंसर, दिल की बीमारी, डायबिटीज आदि रोगों का बड़ा कारण तनाव ही है। तनाव यदि बढ़ जाए तो इंसान को मनोचिकित्सक की जरुरत भी पड़ सकती है। 

तनाव के लिए बहुत सी दवाइयां बाजार में मिलती हैं लेकिन इसके लिए ज्यादा दवाओं का सेवन भी हानिकारक है। ऐसे में यदि योग को अपनाया जाए तो बिना दवा के ही तनाव से छुटकारा मुमकिन है इसके अलावा शरीर की अन्य व्याधियों में भी आराम मिलता है। आइये जानें कैसे शवासन के अभ्यास से तनाव पर नियंत्रण पाया जा सकता है।

कैसे करें शवासन-
पीठ के बल लेट जाएं। दोनों पैरों में डेढ़ फुट का अंतर रखें। दोनों हाथों को शरीर से कुछ दूरी पर रखें। हथेलियों का रुख उपर की ओर रखें। सिर एकदम सीधा रहे, इसके लिए सिर के नीचे एकदम पतला तकिया या कोई कपडा रखें। शरीर को तनाव रहित करने के लिए अपनी कमर और कंधों को व्यवस्थित करें। शरीर के सभी अंगों को ढीला छोड़ दें तथा आंखों को कोमलता से बंद कर लें। 

ध्यान रहे सांस लेते वक़्त शरीर का कोई भी हिस्सा हिलना नहीं चाहिए। लंबी साँसें लें और खुद को तनाव रहित महसूस करें। अगर कोई विचार मन में आए तो उसे साक्षात देखें लेकिन इससे जुड़ें नहीं बल्कि उसे जाने दें। कुछ ही देर में आप मानसिक रूप से शांत और तनावरहित महसूस करने लगेंगे। आंखें बंद रखते हुए इसी अवस्था में एक से 10 तक तक उल्टी गिनती गिनें। उसके बाद धीरे धीरे पुरानी स्थिति में आ जाएं।

शवासन की अवधि-
शवासन का अभ्यास 1 या 2 मिनट तक करें। अगर आपके पास पर्याप्त समय है तो 20 मिनट तक शवासन को किया जा सकता है। इस आसन को सोने से पहले नियमित रूप से करें, लाभ होगा।

शवासन के दौरान ध्यान रखने योग्य बात-
शवासन के दौरान शरीर के किसी भी हिस्से को हिलाएं नहीं।
सांस लेने की तरफ पूरा कंसंट्रेशन रखें।
अंत में दोनों पैरों को मिलाएं और दोनों हथेलियों को आपस में रगड़कर इसकी गर्मी को अपनी आंखों पर लगाएं। इसके बाद हाथ सीधा करें और आंखें खोल लें।

शवासन को हर वर्ग और हर उम्र के लोग कर सकते हैं। यह आसन अगर सही ढंग से किया जाए तो तनाव तो दूर होता ही है, उच्च रक्तचाप सामान्य होता है तथा अनिद्रा भी दूर होती है।

योग से संबंधित अन्य लेख

प्राणायाम (Pranayam)

मधुमेह रोगियों के लिए 10 योग आसन (Top 10 Yoga Asanas For Diabetes Patient)

योग के फायदे (Benefits Of Yoga)

 

Yoga asans, tension, योग आसन, तनाव

राशिफल

धर्म

शब्द रसोई से