Menu
Search
Menu
close button
Ultrasound In Pregnancy

गर्भावस्था के दौरान अल्ट्रासाउण्ड (Ultrasound In Pregnancy)

Ultrasound In Pregnancy

अल्ट्रासाउण्ड एक ऐसा परीक्षण है जिसमें आपके बच्चे, गर्भाशय तथा नाल (प्लेसेंटा) की स्थिति जानने के लिए ध्वनितरंगों का प्रयोग किया जाता है। आप इसमें अपने बच्चे की हृदय की धड़कन सुन पायेंगी तथा पटल पर चित्र दिखेंगे। अल्ट्रासाउण्ड कोई एक्स-रे नहीं है तथा इसमें कोई दर्द नहीं होता। इस परीक्षण में लगभग 20 मिनट लगते हैं तथा यह आपके चिकित्सक के कार्यालय अथवा क्लीनिक में किया जाएगा।

अल्ट्रासाउण्ड का प्रयोग निम्नलिखित के लिए किया जाता है (Uses of Ultrasound in Pregnancy):

  • बच्चे की नियत तिथि की जांच।
  • बच्चे के विकास तथा वजन की जांच।
  • यह देखने के लिए कि क्या एक से अधिक बच्चे हैं।
  • यह देखने के लिए कि क्या कोई जन्‍मगत दोष है। यदि जन्‍मगत दोष पाया जाता है तो अन्य परीक्षण किए जायेंगे।
  • रक्तस्राव अथवा अन्य समस्‍याओं का कारण जानने हेतु।
  • गर्भावस्था की परिपक्व स्थिति (बाद के महीनों) में बच्चे की स्थिति जानने के लिए।
  • यद्यपि बच्चे के यौन क्षेत्र देखे जा सकते हैं, अल्ट्रासाउण्ड बच्चे का लिंग जानने हेतु नहीं किए जाते। आपसे पूछा जाएगा कि क्या आप अल्ट्रासाउण्ड किये जाने पर बच्चे का लिंग जानना चाहेंगी? अल्ट्रासाउण्ड द्वारा हमेशा बच्चे के लिंग की जानकारी नहीं मिलती।

तैयारी करने के लिए (Preparation for Ultrasound)

आप से जांच से पहले 1 - 2 गिलास पानी पीने को कहा जा सकता है, ताकि आपका मूत्राशय भर जाए। अगर ऐसा हो, तो जांच पूरी होने तक पेशाब न करें।

परीक्षण के दौरान (During the Ultrasound)

  • आप एक मेज पर लेट जाएँगी तथा आपका पेट खुला रहेगा।
  • आपकी त्वचा पर एक गर्म जैल लगाया जाएगा। इस जैल के ऊपर से चित्र खींचने हेतु एक वैंड घुमाया जाएगा।
  • आप पटल पर चित्र देख पाएँगी।
  • स्टाफ आप से चित्र के बारे में बात करेगा।
  • यदि आपके मन में कोई प्रश्‍न  अथवा चिंताए हों तो स्टाफ के सदस्यों से बात करें।

Ultrasound , Pregnancy, गर्भावस्था, अल्ट्रासाउण्ड

-->

राशिफल

Horoscope

शब्द रसोई से